OBO|Live Tarahi|Ghazal|Dilbag Virk|Ghazal-go

ओबीओ लाइव तरही-100/दिलबाग विर्क

पेश है ओबीओ लाइव तरही-100 में हरियाणा के शाइर श्री दिलबाग सिंह विर्क जी की गज़ल- राह से वो हटा गया है मुझे राह से वो हटा गया है मुझे तोड़ कसमें, भुला गया है मुझे यूँ ही उड़ता रहा, हवा में मैं आइना वो दिखा गया है मुझे रोजो-शब उसको सोचता हूँ बस रोग …