OBO Live Tarahi-100/Mahendra Kumar

OBO Live Tarahi-100/Mahendra Kumar

बोलना जब से आ गया है मुझे OBO Live Tarahi-100 में पेश है महेन्द्र कुमार की ग़ज़ल जो उन्होंने ओपन बुक्स ऑनलाइन डॉट कॉम में आयोजित लाइव तरही मुशायरे के 100 वें अंक में प्रस्तुत की थी। बोलना जब से आ गया है मुझे चुप रहूँ ये कहा गया है मुझे मेरी सूरत बिगाड़ने वाला …