उस्मान खान

H2SO4 एक प्रेम कहानी – पुस्तक समीक्षा (लेखक – उस्मान खान)

  1. पाठकीय प्रतिक्रिया – H2SO4 एक प्रेम कहानी
Book Review | H2SO4 एक प्रेम कहानी | Ghazal-go.com
H2SO4 Ek Kahani By Usman Khan

 

अंजुमन प्रकाशन, इलाहाबाद से प्रकाशित  H2SO4 – एक प्रेमकहानी उपन्यास है। इसे लेखक उस्मान खान ने एसिड हमले की शिकार नायिका को केंद्र में रखकर पेश किया है। हालाँकि प्रेम पर बरसों में कई उपन्यास लिखे जा चुके हैं।  हर बार नया कह पाना संभव नहीं होता। इतनी तंग ज़मीन के बावजूद लेखक अपना रास्ता बनाने में कामयाब रहे हैं। भाषा चयन बहुत अच्छा है, चुने गए शब्द हमारे आसपास के ही हैं। कहानी को समझने के लिए जेहन में ज़ोर डालने की ज़रूरत नहीं। कितनी ही ज़ुबैदा हमारे आसपास हैं हमें अपने अंदर एक अली को जगाने की ज़रूरत है जो प्यार के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। हाँ लेकिन किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं बल्कि दिल में प्यार जगाने के लिए।

इस उपन्यास का प्रस्तुतिकरण बहुत अच्छा है। उपन्यास की कहानी उत्सुकता बनाए रखती है। सूत्रधार की भूमिका ने इस कहानी को दिलचस्प बना दिया है। सबसे बड़ी बात लेखक ने क्षणिक नफ़रत की परिणति को घृणा की दृष्टि से देखने की बजाए एक सकारात्मक मोड़ देने की कोशिश की है।

सकारात्मकता

मुन्ना और लाली ऐसे किरदार हैं जिन्हें लेखक ने पश्चाताप करने का मौका दिया है। समाज को ऐसे ही सकारात्मक सोच की ज़रूरत है। अली और ज़ुबैदा के प्रेम प्रसंग के दौरान प्रयुक्त घटनाक्रम हमारे आसपास का लगता है। कहानी की पृष्ठ भूमि एक आम भारतीय परिवेश की व्याख्या करता है। कहानी मध्यम वर्गीय पारिवारिक माहौल को आत्मसात करती हुई महसूस होती है।

इस उपन्यास में कुछ कमियाँ भी नज़र आईं। कहानी की माँग के अनुसार स्त्री व पुरुष के अंतरंग संबंधों की व्याख्या अनेक बार की गई है। ज़रूरी न होने पर इसका जिक्र वाजिब प्रतीत नहीं होता, यही गलती लेखक ने यहाँ की है।

आटे में नमक

इस उपन्यास की शुरूआत में कहानी थोड़ी उलझी हुई लगती है। इसके नकारात्मक पहलू की उपेक्षा की जा सकती है क्योंकि यहा आटे में नमक तुल्य हैं।  इस उपन्यास का सकारात्मक भाग दिलचस्प है। उम्मीद है आगे भी उस्मान भाई की अच्छी किताबें पढ़ने को मिलेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *